25.10.16

दिवाली पर इन जगहों पर दीपक जलाना न भूलें




दिवाली पर इन जगहों पर दीपक जलानान भूलें दिवाली के दिन दीपक जलने की परंपरा सदियों से चली आ रही है। दीपावली की रात हम अपने घर को दीपक की रौशनी से जगमग करतें है ऐसी मान्यता है की दिवाली के दिन माता लक्ष्मी पृथ्वी पर भ्रमण करती हैं अत: माता लक्ष्मी आपके घर मैं प्रवेश करे उसके लिए आवश्यक है कि दीपकों को कुछ विशेष स्थानों पर जलाना न भूलें।

आज हम आपको बताएगें की दिवाली की रात कहाँकहाँ दीपक जलने चाहिए पीपल के पेड़ के नीचे दिवाली वाले दिन दीपक जलाना अति शुभ माना जाता है पर दीपक जलने के बाद पीछे मुडक़र नहीं देखना चाहिए। 

ऐसा करने से आपकी धन से जुड़ी सभी समस्याएं समाप्त होती है।यदि संभव हो तो दिवाली की रात श्मशान में दीपक जलाएं यदि ऐसा न कर सके तो किसी सूनसान इलाके में स्थित मंदिर में दीपक जलाएं। 

दिवाली वाले दिन घर के मुख्य द्वार की चौखट पर दीपक अवश्य जलाना चाहिए घर के मुख्य द्वार पर दीपक जलने से घर मैं नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं कर पाती और घर परिवार में सुख समृद्धि की प्राप्ति होती है।


दिवाली की रात घर के नज़दीक वाले चौराहे पर भी दीपक जलाना चाहिए। घर मैं पूजन स्थलमैं दीपक जलाएं 

इस बात का ध्यान रखें की दीपक पूरी रात जलता रहे ऐसा करने से महालक्ष्मी प्रसन्न होती है। घर के आस पास जो भी मंदिर हो वहां दीपावली वाले दिन दीपक अवश्य जलाएं इससे सभी देवी देवता प्रसन्न होते है। 

घर के आँगन मैं दीपक जलाना चाहिए पर एक बात का ध्यान रखें यह दीपक रात भर जलता रहे। 

किसी बेल पत्र के पेड़ के नीचे दिवाली की रात दीपक जलाएं बेल पत्र भगवान् शिव का प्रिय पेड़ है अत: यहाँ दीपक जलने पर उनकी कृपा प्राप्त होती है।

कोई टिप्पणी नहीं: